सर्वाइकल से राहत पाने के लिये इधर उधर मत भटको ये पढ़ना

आजकल हर कोई अपने लाइफस्टाइल में बहुत व्यस्त है, जिसके चलते सेहत की तरफ लोग लापरवाह होते जा रहे हैं। सेहत से जुड़ी छोटी-मोटी परेशानियों को नजरअंदाज करने से ये बाद में बड़ी परेशानी का कारण बन सकती हैं। इन्हीं परेशानियों में से एक है सर्वाइकल यानि गर्दन का दर्द। यह बीमारी आजकल आम सुनने को मिल रही है। शुरू में अनदेखी करने पर बाद में यह दर्द बढ़ता जाता है और गर्दन से शुरू होकर कंधे से होता हुआ पैरों के अंगूठे तक पहुंच जाता है। इसके लिए सही समय पर डॉक्टरी इलाज करवाना बहुत जरूरी है, इसके अलावा कुछ घरेलू तरीकों से भी सर्वाइकल से राहत पाई जा सकती है।

सर्वाइकल के लिए तिल का तेल :-
तिल का तेल दर्द कम करने का बेहतरीन उपाय है। इस तेल को गुनगुना करके 10 मिनट के लिए गर्दन की मसाज करें। दिन में 3-4 बार इस प्रक्रिया को दोहराने से दर्द से राहत मिलेगी। मसाज हल्के हल्के हाथों से और सर्क्यूलर मोशन में करना ज्यादा लाभकारी रहता है । ज्यादा प्रेशर से दबाना उचित नही होता है ।

सर्वाइकल के लिए अदरक :-
सर्वाइकल स्पांडलाइटिस के लिए अदरक बहुत प्रभावशाली है। इसके इस्तेमाल से ब्लड सर्कुलेशन तेज हो जाता है, जिससे दर्द से राहत मिलती है। अदरक की चाय पीएं और अदरक के तेल से मसाज करें। अदरक को एक बहुत ही अच्छा दर्दनिवारक और शोथहर माना गया है ।

सर्वाइकल के लिए सेब का सिरका :-
कॉटन के सॉफ्ट कपड़े को सेब के सिरके में भिगोकर प्रभावित जगह पर लपेट लें। इसे कुछ देर तक इसी तरह रहने दें। यह प्रक्रिया दिन में दो बार दोहराएं। इसके अलावा नहाने के पानी में 1 कप एप्पल साइडर विनेगर डालकर नहाएं। इससे बहुत राहत मिलती है।

सर्वाइकल से राहत पाने के लिए कुछ सरल प्रयोगों की जानकारी वाला यह लेख आपको अच्छा और लाभकारी लगा हो तो कृपया लाईक और शेयर जरूर कीजियेगा । आपके एक शेयर से ही किसी जरूरतमंद तक सही जानकारी पहुँचती है और हमको भी आपके लिए और बेहतर लेख लिखने की प्रेरणा मिलती है । इस लेख के समबन्ध में आपके कुछ सुझाव हों तो कृपया कमेण्ट के माध्यम से हमको जरूर सूचित करें ।