Jai Mata Di!

Recent Posts

सिर्फ 1 मिनट तक रोजाना इस उंगली को दबाने से इन बड़े-बड़े 50 रोगों का सफाया होता है, जरूर अपनाएँ

हमारे हाथ हमें कई बीमारियों से लड़ने की ताकत देते हैं। ये हमें रोग से छुटकारा दिलवाने में सहायक सिद्ध हो सकते हैं। यही कारण है कि हमारे शास्त्र हमें हस्त मुद्राओं का ज्ञान देते हैं। पतंजलि योग सूत्र के अलावा भी कई ऐसे ग्रंथ हैं जिनमें हस्त मुद्राओं के बारे में जानकारी मिलती है। आइए जानते हैं आज योग शास्त्र में बताई गई एक ऐसी हस्त मुद्रा के बारे में जिसे करने पर आपको मिलेंगे ये अनोखे फायदे…

आयुर्वेद के अनुसार हमारे हाथ की पांचों अंगुलियाँ एक विशेष तत्व का प्रतिनिधित्व करती है। जो इस प्रकार है –अंगूठा – अग्नि तत्व तर्जनी अंगुली – वायु तत्व मध्यमा अंगुली – आकाश तत्व अनामिका अंगुली – पृथ्वी तत्व कनिष्ठा– जल तत्व। हथेली में शरीर के हर एक हिस्से के लिए कुछ खास प्रेशर पाइंट है। यदि उन्हें दबाया जाए तो चमत्कारिक फायदे हो सकते हैं। हस्त मुद्राओं के माध्यम से यही किया जाता है। जैसे यदि आप रोज तर्जनी यानी इंडैक्स फिंगर को कम से कम 2-3 बार 60 सेकंड के लिए मसलें।

इस जगह हल्का सा प्रेशर देने पर कब्ज से छुटकारा मिलता है। साथ ही पेट से जुड़ी कई बीमारियां भी बिना दवा के ही ठीक हो जाती हैं। अंगूठा और इंडैक्स फिंगर को यदि मिलाकर केवल मुद्रा भी बना ली जाए तो कब्ज, बवासीर, व पेशाब से जुड़े रोगों में लाभ होता है। साथ ही, बढ़े हुए वजन को कम करने में भी ये मुद्रा सहायक साबित होती है।
***