अशोक के वृक्ष के चमत्कारिक टोटके जो लाएंगे आपके जीवन में बरकत और खुशहाली

प्राचीन भारत
भारत एक ऐसा राष्ट्र है जिसका इतिहास शायद अनादिकाल से चला आ रहा है। यहां कई ऐसे ऋषि-महर्षियों ने जन्म लिया जिनके द्वारा प्रदान की गई शिक्षा और विद्याएं आज भी उतना ही औचित्य रखती हैं जितना कभी रखा करती थीं।

विज्ञान और गणित के सिद्धांत
ज्योतिष शास्त्र से लेकर विज्ञान और गणित तक के कई ऐसी सिद्धांत हैं जिनकी स्थापना पौराणिक समय में ही कर दी गई थी।

हैरतंगेज रिश्ता
हमेशा से ही भारत के प्रमुख धर्मों में से एक रहे सनातन धर्म की विशेषताओं को भी दरकिनार नहीं किया जा सकता। इस धर्म में पत्थर, पेड़-पौधे तक यहां तक कि प्रकृति के हर हिस्से को इंसान के जीवन से कुछ ऐसे जोड़ा है कि एक हैरतंगेज संबंध जैसा बन गया है।

हिन्दू परंपरा
पत्थर की मूर्ति में भगवान के दर्शन हो जाते हैं और पेड-पौधे, नदियां सब अलौकिक महत्व रखती हैं। जो भी है यह सब हिन्दू परंपरा के अनुयायियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं।

वृक्षों का महत्व
हिन्दू धर्म में कई ऐसे पेड़-पौधों का जिक्र हुआ है जिन्हें अलौकिक शक्तियां प्राप्त हैं। पीपल, बरगद और अशोक, कुछ ऐसे ही वृक्षों के नाम हैं जो हिन्दू धर्म में बहुत महत्व रखते हैं।

अशोक का पेड़
पीपल और बरगद के विषय में तो आप कई बार जान और पढ़ चुके होंगे, आज हम आपको अशोक का पेड़ इंसान के जीवन की परेशानियों को किस तरह हल कर सकता है या किस तरह उनके काम आ सकते है।

आर्थिक समस्या
कोई भी व्यक्ति अपने जीवन में धन की कमी जैसे हालातों का सामना नहीं करना चाहता। लेकिन अगर किसी कारणवश ऐसी स्थिति आ गई है तो अशोक के पेड़ की जड़ को आमंत्रण देकर या फिर दुकान लेकर आएं।

पवित्र स्थान
इस जड़ को किसी पवित्र स्थान पर रखने से धन से जुड़ी समस्या समाप्त हो जाएगी।

पारिवारिक कलह
पति-पत्नी के बीच तनाव या फिर पारिवारिक कलह को शांत करने के लिए अशोक के 7 पत्तों को मंदिर में रख दें। मुरझाने के बाद इन पत्तों को हटाकर दूसरे नए पत्ते ले आएं और पुराने पत्तों को पीपल के पेड़ की जड़ में डाल दें। यह उपाय करने से पति-पत्नी के बीच प्रेम बढ़ता है।

सुख-शांति
घर में कोई उत्सव या त्यौहार हो, या फिर कोई शुभ कार्य होना हो तो अशोक के पत्तों की वंदनवार बनाकर दहलीज के बाहर कुछ ऐसे लगाएं कि हर अंदर आने वाले व्यक्ति के सिर पर वे स्पर्श हों। इसके प्रभाव से घर में सुख-शांति बनी रहती है।

लाभदायक पत्ते
अशोक के पत्ते वाकई चमत्कारी होते हैं। वंदनवार के हरे पत्तों के अलावा सूखे पत्ते भी काफी कारगर लाभदायक हैं। ये घर के भीतर नकारात्मक ऊर्जा के प्रवेश को बाधित करते हैं।

वंदनवार
इस वंदनवार को तब तक नहीं उतारा जाना चाहिए जब तक कि दूसरा मांगलिक अवसर ना आ जाए।

अशोक के बीज
तांबे की ताबीज में अशोक के बीज धारण करने से लगभग हर कार्य में सफलता प्राप्त होती है। ना तो व्यक्ति को धन से जुड़ी कोई दिक्कत आती है और ना ही उसकी गरिमा कम होती है।

मां दुर्गा की कृपा
दुर्गा के भक्तों और उनकी कृपा पाने की लालसा रखने वाले व्यक्तियों को प्रतिदिन अशोक के पेड़ की जड़ में पानी चढ़ाना चाहिए।

देवी का ध्यान
जल चढ़ाते समय देवी का जाप या उनका ध्यान अवश्य किया जाना चाहिए। इस उपाय को करने से बिगड़ती किसमत भी बन जाती है।
***