नाख़ून चबाने से हमारा शरीर क्या-क्या परिणाम भुगतता है

हम अक्सर अपने आस-पास लोगों को नाखून और उसके आस-पास की स्किन चबाने देखते हैं। वैसे तो नाखून की स्किन चबाना हमें आम सी बात लगती हैं लेकिन शायद आप यह नहीं जानते कि इस गंदी आदत की वजह से हमारी सेहत पर बहुत बुरा असर पड़ सकता है। इससे पेट संबंधी परेशानी होना स्वाभाविक है। इससे पाचन शक्ति भी कमजोर होती है।

वहीं ‘द सन’ में दी गई एक रिपोर्ट के अनुसार, लगातार बचपन से इस नाखून चबाने की लत के शिकार लोग डर्मेटोफिजिया (dermatophagia) नामक बीमारी से ग्रस्त हो जाते हैं। डर्मेटोफिजिया स्किन की एक ऐसी बीमारी है जो एक बार शुरू हो जाएं तो ठीक नहीं होती। बार-बार घावों के बनने से सलाइवा के बैक्टीरिया के कारण इंफैक्शन इतना बढ़ जाता है कि नसों को नुकसान पहुचता है, जिससे यह डैमेज भी हो सकती है। हर 7 में से 2 लोग इस बुरी लत से प्रभावित हैं।

डिप्रैशन की वजह से भी लोग अक्सर नाखूनों और उंगलियों के मास को चबाने लगते हैं। इसे लगातार चबाने और काटने से उंगलियों के पास पक्के निशान बन जाते हैं। अगर आप भी ऐसी किसी समस्या से जूझ रहे हैं तो डर्मेटोलॉजिस्ट या साइकेट्रिस्ट से जरूर संपर्क करें।

देखिये विडियो:-

***