शादी की रात को बादाम और केसर वाला दूध पिलाने का कारण

सुहागरात को दूध पीने के फायदे
दोस्तों आज आपको एक ऐसी रोचक जानकारी देने जा रहा है के आखिर शादी की पहली रात को बादाम और केसर वाला ही दूध क्यों पीने को दिया जाता है. क्या ये महज एक रीति है या इसके पीछे भी कोई वैज्ञानिक कारण छिपा हुआ है.

शादी की पहली रात हर नव विवाहित दुल्हे और दुल्हन के लिए उत्सुकता भरी होती है. ऐसे में इस रात को यादगार बनाने के लिए अनेक कार्य किये जाते हैं जैसे बिस्तर पर फूल बिछाना, कमरे को सुगन्धित करना और मनमोहक तरीके से सजाना. तो इसके पीछे क्या कारण हैं. आज हम आपको इनके पीछे के वैज्ञानिक कारण बताने जा रहें हैं. तो आइये जाने….

सबसे पहले हम बात करेंगे कमरे और बिस्तर को फूलों से सजाने के बारे में – शादी की रात बिस्तर को और कमरे को फूलों से सजाया जाता है, जिसका कारण होता है फूलों की खुशबू से नव विवाहित जोड़े पर Aphrodisiac effect. Aphrodisiac effect के लिए कहा जाता है ये effect मन में इच्छाओं को बढ़ा देता है. तो फूलों की खुशबू से ये effect बढ़ जाता है, और दूसरा गेंदे के फूल भी बिछाए जाते हैं, गेंदे के फूल लगाने से कमरे में मच्छर नहीं आते, ये नेचुरल तरीका है मच्छर भगाने का.

इसके बाद हम बात करेंगे केसर बादाम वाले दूध की.

पहले तो आपको बताते हैं के ये दूध बनता कैसे है. इसको बनाने के लिए सर्वप्रथम दूध को गर्म किया जाता है और इस दूध में बादाम को कूट कर डाला जाता है. इसको उबाल आने पर इसको नीचे उतर लीजिये, और इसमें एक चुटकी केसर डाल दीजिये. ध्यान रहें के ये दूध जितना गर्म हो सके उतना गर्म पीजिये. अर्थात इस दूध का जो मूल प्रभाव है वो गर्म होने पर ही है.

और ध्यान दीजिये के इस दिन पहले दूल्हा आधा गिलास दूध पीता है और बाद में दुल्हन भी वही आधा गिलास दूध पीती है. तांकि इसके गुण दोनों को मिले.

तो आइये जाने के आखिर क्यों पिलाया जाता है गर्म गर्म दूध वो भी बादाम केसर डालकर –
  1.     भारतीय शादी की परंपरा ऐसी होती है के ये शादी के एक दो दिन पहले ही भयंकर रूप से थका देती है, जिस से नव विवाहित दूल्हा दुल्हन को एनर्जी उपलब्ध होती है. जिस से उनकी थकान दूर होती है.
  2.     केसर में एक गुण होता है के ये खून के Circulation को बढ़ा देती है, ये तनाव को कम करती है, और इसका सेवन करने से खून में गर्मी बनी रहती है. ये नीचे की और खून का दौरा बना कर रखता है. केसर के लिए अधिक जानकारी आप इस पोस्ट पर क्लिक कर के पढ़ सकते है. [केसर के चमत्कारिक गुण]
  3.     दूध और बादाम के अन्दर एमिनो एसिड पाया जाता है Tryptophan, जो बॉडी के अन्दर जा कर serotonin में बदल जाता है. और ये Serotonin एक Happy hormone के नाम से जाना जाता है जो मूड को खुशनुमा कर देता है. सुहागरात की रात को जब दूल्हा दुल्हन काफी nervous रहती है, जो इसके सेवन से दूर होती है.
ऐसे कई सवाल है जो लड़के और लड़कियों के मन में अक्सर ही आते रहतें हैं. ये पोस्ट में उनको थोड़ी सी जानकारी देने की कोशिश की गयी है. आशा है के आपको ये अच्छी लगी होगी.

ये कुछ कारण हैं के भारत में सुहागरात की रात को दूध में बादाम और केसर देने का रिवाज़ सदियों से चला आ रहा है. आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी कैसी लगी – अपने विचार ज़रूर साझा करें.
***