एक गोत्र में क्यों नहीं करनी चाहिए? जाने इसके पीछे का उचित कारण


जाने वैज्ञानिक कारण : -  एक अमेरिकी वैज्ञानिक ने कहा की जेनेटिक बीमारी न हो इसका एक ही इलाज है और वो है "सेपरेशन ऑफ़ जींस".. मतलब अपने नजदीकी रिश्तेदारो में विवाह नही करना चाहिए ..क्योकि नजदीकी रिश्तेदारों में जींस सेपरेट (विभाजन) नही हो पाता |

जींस लिंकेज्ड बीमारियाँ जैसे हिमोफिलिया, कलर ब्लाईंडनेस, और एल्बोनिज्म होने की १००% चांस होती है ..आखिर हिन्दूधर्म में हजारों सालों पहले जींस और डीएनए के बारे में कैसे लिखा गया है ? जो "विज्ञान पर आधारित" है !

हिंदुत्व में कुल सात गोत्र होते है और एक गोत्र के लोग आपस में शादी नही कर सकते ताकि जींस सेपरेट (विभाजित) रहे.

जानिए कारण! एक ही गोत्र में क्यों नहीं करनी चाहिए  : Married Tips In Hindi

1. Same gotar main saadi karne se genetic problem jayada hoti hai.

2. Alag alag gotar main saadi ho jaane se santan ache guno waali hoti hai.

3. Hamare dharm ke anusaar vivah main teen gotaro ka milan hota hai -  ladke or ladki ka, maaka, dadi ka, kahi to nani ka gotar bhi mila lete hai.

4. Ek hi Gotar ke ladke or ladki ko bhai - bahan mana jata hai, inka saadi karna uchit nahi.

5. Samaan gotar main saadi hone se santan main anek avgun hote hai or unke karam bhi ache nahi hote.

6. Same gotar waalo ke bachho ki ruchi kisi bhi ache kaaryo main nahi hoti.
***