अगर आपको भी अहसास हो ऐसा तो समझ जाइये कि आपका पुनर्जन्म हुआ है !!

पुनर्जन्‍म के बारे में आप क्‍या सोचते हैं। आप में से कुछ लोग इसपर विश्‍वास करते होंगे और आपमें से कुछ को इसपर जरा भी विश्‍वास नहीं होगा। यहां एक बात तो कहनी पड़ेगी, वो ये कि कहीं न कहीं इस पर आपको विश्‍वास करना होगा। इसके पीछे बड़ा कारण है हिन्‍दू माइथोलॉजी।


हिन्‍दू मान्‍यता के अनुसार माना जाता है कि इंसान की कुल 84 लाख योनियां होती हैं। ऐसे में पुर्नजन्‍म को तो मानना ही पड़ेगा। अब आप सोच रहे होंगे कि अगर ऐसा है तो आखिर कैसे मालूम पड़ेगा कि ये आपका पुनर्जन्‍म है। आइए सुलझाते हैं आपके इसी सवाल को…।

भय: अगर आप बेवजह किसी वस्तु या व्यक्ति से डरते हैं और आपको किसी परिस्थिति से भय लगता है, कई लोगों के साथ ऐसा होता है कि व्यक्ति उन चीजों से डरता है, जिससे आम जनता को डर नहीं लगता। तो इसका मतलब है कि इस भय के साथ आपकी पिछली जन्म की यादें जुडी हुई हैं।

1 . क्‍या आपको किसी चीज से हमेशा लगता है डर
क्‍या कभी आपके साथ ऐसा होता है कि आपको बेवजह किसी ऐसी चीज से डर लगे जिससे किसी को डर नहीं लगता हो। आपके डर को देखकर लोग कहें कि ये भी कोई डरने की चीज है। इसके साथ ही आपको भी ये लगे कि हां, वाकई ये तो डरने वाली चीज नहीं है, फिर क्‍यों आपको डर लगता है। कोई चीज या कोई व्‍यक्‍ित, जिससे डरने का कारण आपके पास न हो, तो समझ लीजिए कि इससे आपके पिछले जन्‍म का कोई लेना-देना है।

2 . क्‍या सताती है आपको कोई अनचाही याद
किसी इंसान से पहली बार मिलकर ही आपको ऐसा लगे कि आप उससे पहले भी कई बार मिल चुके हैं। इसके अलावा कभी कोई घटना आपके सामने पहली बार घटे और आपको लगे कि ये तो आपके जहन में आपके साथ कई बार हो चुका है तो समझ जाइए कि ये इशारा है। इशारा आपके पिछले जन्‍म से जुड़ी किसी याद का।

3 . कोई सपना सताता है बार-बार
कोई ऐसा सपना आपकी नींदों में आता हो, जो एक बार नहीं, अक्‍सर ही आपको एक ही तरह से दिखता हो। आपकी आदत पड़ जाए कि ये सपना तो आपको अक्‍सर आता है। ऐसी स्‍थिति में समझ जाइए कि आपका उस सपने से कोई लेना-देना तो जरूर है। वो आपकी यादों को खींच रहा है आपके पुनर्जन्‍म की ओर।

4 . आप बेवजह आकर्षित होते हैं किसी की ओर
क्‍या कोई जगह या कोई व्‍यक्‍ति ऐसा है, जिसको पहली बार देखकर आपको ऐसा लगे कि आप उसकी ओर अपने आप ही खिचे चले जा रहे हैं। आप नहीं चाहते, लेकिन फिर भी आपका उस व्‍यक्‍ित या जगह की ओर आकर्षण बना हुआ है, तो यहां भी समझ जाइए कि आपका इससे भी कोई लेना-देना जरूर है। ये कहीं न कहीं आपके पिछले जन्‍म से जुड़ा हुआ है।
***