गुरुवार को पर्स में रखे ये चीज़ें हमेशा टिकेगा पर्स में पैसा

अधिक से अधिक धन और सभी सुख-सुविधाएं पाना हर व्यक्ति की चाहत होती है. हर कोई यह कामना करता है कि उसके पास ढेर सारा धन हो जिससे वह जो चाहे, जब चाहे खरीद सके, अपनी सभी जरूरतों को पूरा कर सके लेकिन काफी बार मेहनत करने के बाद भी फल नहीं मिलता जिससे काफी निराशा भी होती है.

धन यदि हो भी तो वह हमारे पास टिकता नहीं है और दुर्भाग्य से कई बार वह समय भी दूर नहीं रहता, जब कंगाली के काले बादल व्यक्ति के ऊपर मंडराने लगते हैं. जब घर से निकलते है तो हमारा पर्स भरा रहता है लेकिन शाम होते होते सारा पर्स खाली हो जाता है और कुछ बचत नहीं हो पाती.

यदि आप हिन्दू शास्त्रों में थोड़ा भी विश्वास करते हैं और मानते हैं कि शास्त्रीय ज्ञान जीवन को सुधारने के काम आता है तो आपकी इस समस्या का कारण हो सकता है माता लक्ष्मी का आपसे रुष्ट होना. मनुष्य चाहे कितनी भी मेहनत क्यूँ ना कर ले लेकिन जब तक माँ लक्ष्मी आपसे खुश नहीं होती तब तक बरकत नहीं होती.

दरअसल मनुष्य की इस स्थिति के पीछे कारण होता है गुरु ग्रह का कमजोर होना. जीवन में हर क्षेत्र में सफलता के पीछे गुरु ग्रह की स्थिति बेहद महत्वपूर्ण मानी जाती है. कुंडली में अगर गुरु मजबूत हो तो सफलता का कदम चूमना बिल्कुल तय है.

लेकिन यही गुरु ग्रह अगर कमजोर हो तो तमाम मुश्किलें जीना मुहाल कर देती है. बनते हुए काम बिगड़ जाते हैं, किसी काम में यश नहीं मिलता, घर में पैसे की तंगी बनी रहती है और स्वास्थ्य पर भी इसका असर दिखने लगता है.

आज हम आपको बताएँगे एक ऐसा उपाय जिसको करने से गुरु ग्रह आपके अनुकूल होगा और साथ में माँ लक्ष्मी की कृपा भी आप पर बनेगी. गुरुवार के दिन शुभ मुहूर्त में अपने नित्य कर्मो से निवृत हो कर देव गुरु बृहस्पति की पूजा करे जैसा की आप हर गुरुवार करते है इसके बाद अपने पर्स में एक माँ लक्ष्मी की तस्वीर रख ले. माँ लक्ष्मी की तस्वीर के साथ अगर चांदी निर्मित सिक्का भी आप रख सके तो बहुत अच्छा होगा. ऐसा करने से माँ लक्ष्मी की आप पर कृपा बनी रहेगी और आपके पर्स में पैसा टिकने लगेगा.

कई बार हमारे पास कुछ सुझाव आते है की कुछ ऐसी चीज़ हमें बताईये जिसको रखने में भी आसानी हो और आसानी से उपलब्ध भी हो जाये इसलिए हमने आपके लिए ऊपर बताई चीज़ को खोजा है और अगर आप चाहे तो एक बार आजमा सकते है.

इसके अलावा यदि आपका गुरु अशुभ या कमजोर है तो आप नित्य पीपल में जल चढ़ाएं, सदा सत्य बोलें और अपने आचरण को शुद्ध रखें तो गुरु शुभ फल देने लगेगा. इसके अलावा गुरु को शुभ करने के लिए सदा पिता, दादा और गुरु का आदर कर…

इसके अलावा अन्य अचूक उपाय यह कि गुरुवार के दिन पीली वस्तु का सेवन करें। घर में धूप-दीप दें। प्रतिदिन प्रात: और रात्रि को कर्पूर जलाएं।

घर के वास्तु को बदलें और घर को गुरु के अनुसार बनाएं। घर के बर्तन आदि वस्तुएं पीतल की रखें। तिजोरी या ‍ईशान कोण में हल्दी की गांठ को किसी सफेद कपड़े में हल्का से बांधकर रखें.
***