पीरियड जल्दी लाने और रोकने के उपाय

 मासिक धर्म से कई महिलायें बहुत परेशान रहती हैं, लेकिन यदि अनियमित माहवारी हो तब समस्या कहीं गंभीर हो जाती है पीरियड देर से आये या समय से पहले आये दोनों ही बातें उसके शरीर को नुक्सान पहुंचाता है.

पीरियड की प्रॉब्लम के घरेलु उपचार
पीरियड साईकल क्या है - पीरियड शुरू होने के पहले दिन से दूसरी बात पीरियड्स आने के बीच जो समय होता है, वह पीरियड साईकल कहलाता है. उदाहरण के लिए अगर पीरियड १ अगस्त को आया था, और दूसरा पीरियड २८ अगस्त को आता है तो आपका पीरियड साईकल २७ दिन का हुआ मासिक धर्म २१ से ३४ दिन का होता है, कुछ लड़कियों के लिए यह समय अधिक भी हो सकता है.

पीरियडस टाइम पर न आने के कारण
माहवारी में देरी के कई कारण हो सकते हैं शारीरिक कमजोरी से लेकर तनाव तक सब कुछ पीरियड्स पर असर डालता है. वजन कम होने, ज्यादा दवाओं का प्रयोग करने, और शरीर में पोषक तत्वों की कमी होने से भी माहवारी टल जाती है. हार्मोन्स का असंतुलन और थायरोइड की बीमारी भी मासिक धर्म पर असर डालती है.
त्वचा गोरी करने का एक बढ़िया रामबाण नुस्खा। इसे लिख लें और आज़माएँ।
त्वचा गोरी करने का एक बढ़िया रामबाण नुस्खा। इसे लिख लें और आज़माएँ।


पीरियड जल्दी लाने के घरेलु उपाय

    एक कप प्याज़ के सूप में गुड़ मिलाकर पियें, लाभ होगा.
    चुकंदर, गाजर और अंगूर का रस फायदेमंद होता है.
    3 ग्राम तुलसी की जड़ का चूर्ण शहद के साथ लेने से काम बन जाता है.
    दिन में एक बार छाछ पीनी चाहिए .
    करेले का जूस में चीनी मिलाकर पीने से माहवारी नियमित हो जाती है.
    केले की छाल का 1 ग्रास रस सुबह खाली पेट लेने से रुका हुआ पीरियड भी आ जाता है
    गाजर के बीज, मुली के बीज और मेथी के बीज मिलाकर चूर्ण बनाएं माहवारी के समय 10 ग्राम चूर्ण पानी के साथ लेने से सालों से बंद माहवारी भी आ जाती है.

माहवारी जल्दी लाने के आयुर्वेदिक उपाय
  1.     गुनगुने पानी में थोडा शहद, निम्बू और दालचीनी पाउडर मिलाकर पीने से पीरियड्स जल्दी आते हैं.
  2.     गर्म दूध में केसर के दो धागे मिलाकर पीने से भी फायदा मिलता है.
  3.     5 अंजीर दूध में डालकर उबालकर उनका सेवन करना चाहिए, अनियमित माहवारी की समस्या ख़त्म हो जाएगी. पीरियड्स छूट जाने जैसी प्रॉब्लम का इलाज़ भी यही है.
***