अगर आज 6 मई को कर लेंगे ये उपाय तो जीवन में कभी भी नहीं होगी कोई समस्‍या

आज एकादशी तिथि है ऐसा माना जाता है कि इस दिन भगवान विष्‍णु की पूजा कि जाती है इनके पूजन के साथ साथ अगर आप शनि का नियमित उपाय करें तो शनि का प्रकोप आपके जीवन से कम हो जाता है।

ज्योतिषशास्त्र में माना गया है कि अगर शनिवार को घर में तेल खरीद कर लाया गया तो इससे शनिदेव का कुप्रभाव घर-परिवार पर पड़ता है और आप भगवान शनि की कृपा पाना चाहते हैं तो हर शनिवार को शनिदेव पर तिल का तेल अर्पण करें, इससे आपको जल्‍द ही शनि की कृपा प्राप्‍त हो जाएगी।

धार्मिक मान्‍यता के अनुसार तिलहन अर्थात तिल भगवान विष्णु के शरीर का मैल है तथा इससे बने हुए तेल को सर्वदा पवित्र माना जाता है। इसलिए इसे शनि देव पर अर्पण करने से कृपा मिलती है।
 
धार्मिक महत्व
तिल के तेल चढ़ाने के पीछे एक धार्मिक महत्व भी छिपा हुआ है बताया जाता है कि जब हनुमान जी पर शनि की दशा शुरू हुई थी तो उस समय समुद्र पर रामसेतु बांधने का कार्य चल रहा था। तब पुल की रक्षा का भार हनुमान जी पर था।

लेकिन शनिदेव हनुमान जी के बल और कीर्ति से ज्ञात थें जिसके कारण उन्‍होंने हनुमान जी को अपने ग्रह व्‍यवस्‍था के बारे में बताया तभी हनुमान जी ने भी कहा कि वो प्रकृति के नियम का उल्‍लघंन नहीं करना चाहते इसलिए वो राम-काज होने के बाद ही शनिदेव को अपना पूरा शरीर समर्पित कर देंगे लेकिन शनिदेव नहीं मानें और वो हनुमान जी पर आरूढ़ हो गए।
***