5 उपाए जो आपको महीने भर में प्रेग्नेंट बनायें

सुखद विवाहित जीवन में प्रेगनेंसी अहम रोल निभाती है और प्रेगनेंसी के लिए से*स अतिअनिवार्य है इस बात में बहस का कोई मुद्दा नही है लेकिन बहस तब शुरू हो जाती है जब प्रेगनेंसी के लिए से*स पोजीशन के उपयोग की बात की जाती है। अगर यें कहा जाता है प्रेगनेंसी पाने में से*स पोजीशन अहम रोल निभा सकती है तो कुछ लोग इस बात को कोरी बकवास कह दरकिनार कर देते है।

यदि आप गर्भवती होने का प्लान कर रही है और गर्भधारण के लिए दोनों पार्टनर के पूर्ण स्वास्थ्य होने के बावजूद सफलता हासिल नही हो रही है तो आप साथी के साथ से*स करते समय कुछ से*स पोजीशन में बदलाव लाकर जल्द से जल्द कंसीव कर सकती है।

ध्यान देने वाली कुछ जरूरी बातें : जब नियमित रूप से यौन संबंधों में इन पोजीशनो की मदद ली जाती है तो अंडे के प्रति आदमी के शुक्राणुओं की यात्रा को मंजिल तक पहुचने में मदद मिलती है और संभोग के बाद संकुचन से पहले आदमी के शुक्राणु तेजी से अपने गंतव्य तक पहुंच कर महिला के गर्भधारण इच्छा को पूर्ण करते है। इसके अतिरिक्त अगर लवबर्ड्स संभोग के समय फोरप्ले पर अधिक समय व्यक्त करते है तो बिस्तर में दोनों जोड़ी चरम पर पहुच जाती है और इस बेहतरीन सेक*सुअल समय में इन पोजीशनों से प्रेगनेंसी प्राप्त करना ओर आसान हो जाता है।

मिशनरी से*स पोजीशन : इस से*स पोजीसन में पुरुष पार्टनर शीर्ष पर होता है महिला पीठ पर लेटी हुई होती है। दोनों जब इस पोजीशन से*स कर रहे होते है तो पुरुष आगे की तरफ झुका होता है जो जिस वजह से आदमी गर्भधारण के करीब पहुच जानता है और बोनस स्वरूप शुक्राणु को गर्भाशय तक सही तरीके से प्रवेश प्राप्त करने में छूट मिल जाती है।

मिशनरी से*स पोजीशन में होते हुए कूल्हों के नीचे एक तकिया रखकर से*स किया जाए तो से*स रोमांचक तो होता ही है साथ में गर्भाशय ग्रीवा तक स्पर्म की यात्रा सरल हो जाती है। आपको बता दे कूल्हों के नीचे तकिया वाले विचार का वास्तविक में कोई सबूत नहीं है यह एक मत है।

डॉगी स्टाइल से*स पोजीशन : यह से*स पोजीसन गर्भाशय ग्रीवा को खोलता है और अधिकांश पुरुषों इस स्टाइल से प्यार करते है इसलिए वह इससे से*स क्रिया से सहमत भी आसानी से होंगे। डॉगी स्टाइल में पुरुष महिला के पीछे से अपनी मूवमेंट करता है और शिश्न से निकने वीर्य गर्भाशय के काफी करीब होने के कारण बड़ी सुगमता से अण्डे से मिल जाते है।

ट्रायंगल से*स पोजीशन :
इस से*स मुद्रा की स्थिति मिशनरी से*स पोजीसन से काफी मिलती जुलती है। मिशनरी पोजीशन की तरह आदमी इसमे ऊपर होता है और महिला पार्टनर नीच पीठ के सहारे से पैरों को लपेट कर लेटी होती है और पुरुष साथी का सिर ऊपर की तरफ होता है। इस स्थिति के बारे में सबसे अच्छी बात यह की इसमे कदमों की अधिक आवश्यकता नही पड़ती है। इस बेहतर से*स करने और साथी को उत्तेजित करने में आसानी होती है। इस स्थिति में महिला को लिफ्ट कराने के लिए तकिया का उपयोग किया जा सकता है। अगर साधारण रूप से भी इसे बेहतर ढंग से समय लगा कर किया जाए अधिकतर महिला इस से*स की चाहत बार-बार करती है और स्थिति में पेनिस बड़ी ही सरलता से गहराई में प्रवेश कर जाता है।
***