हर मनोकामना को करना चाहते हैं पूरा तो अपनाए ये 10 टोटके, 100% मिलेगा लाभ

हर मनुष्य की कुछ मनोकामनाएं होती है। कुछ लोग इन मनोकामनाओं को बता देते हैं तो कुछ नहीं बताते। चाहते सभी हैं कि किसी भी तरह उनकी मनोकामना पूरी हो जाए। लेकिन ऐसा हो नहीं पाता। यदि आप चाहते हैं कि आपकी सोची हर मुराद पूरी हो जाए तो आपके इन 10 टोटकों को अपनाने से आपकी हर मनोकामना पूरी हो जाएगी।

1. सुबह स्नानादि कर श्रीरामभक्त हनुमानजी को पूजा के बाद पाँच लाल रंग का फूल चढ़ावें।

2. एक जटावाला नारियल का फल लें और उसे एक लाल कपडे में अच्छी तरह लपेट दें। अब बहती हुई पवित्र नदी के किनारे जायँ और अपनी मनोकामना पूर्ण करने का निवेदन करते हुए उस नारियल को जल की धारा में बहा दें।

3. पन्द्रह दिनों तक लगातार किसी देवमन्दिर में जाकर मुफ़्त श्रम दान करें। इसके लिए मन्दिर में झाड़ू लगाना, दर्शनार्थियों के जूते-चप्पलों का ध्यान रखना के सामान कार्य किया जा सकता है या मन्दिर- प्रशासन के आज्ञानुसार सेवा दी जा सकती है ।

4. एक बिल्वपत्र, जो कटा-फटा न हो और जिसमें तीन दागविहीन पत्ते हों, को गंगाजल या पवित्र जल से धोकर उस पर श्वेत (सफेद) चन्दनकी बिंदी लगा दें और भगवान् आशुतोष (शंकरजी) से अपनी मनोकामना पूर्ण करने की प्रार्थना करते हुए उस बिल्वपत्र को शिवलिंग पर अर्पित करें।

5. तुलसी के पौधे में नित्य ही जल दें।

6. पीपल के पेड़ को श्रद्धापूर्वक जल चढ़ावें।

7. प्रातःकाल स्नानादि कर भगवान् श्रीशिवशंकर के मन्दिर में गौरी-शंकर रुद्राक्ष सप्रेम और पूरी भक्ति से चढ़ावें।

8. स्नान करने के बाद एक बरगद के पेड़ के पास जाकर कहें, हे श्रेष्ठ वनस्पति? मैं कष्ट में हूँ जिसके कारण मुझे आपके पत्ते की आवश्यकता पड़ गयी है। मैं आपसे क्षमा माँगते हुए यह ले रहा हूँ। कृपया आप मेरे मनोरथ को पूर्ण करने में सहायता कीजिए। अब एक पत्ता तोड़ कर उसे शुद्ध जल से धोकर उसपर अपनी मनो-कामना लिख दें और उसे किसी पवित्र जल धारा में प्रवाहित कर दें।

9. मन्दिर में मीठी वस्तुओं का आदर पूर्वक भोग लगाना चाहिए।

10. नवरात्रा अथवा किसी भी अन्य शुभ दिन में यह क्रिया की जाती है। इसकी पहली तिथि (परिव) को एक चमकीला वस्त्र माँ भगवती को अर्पित करें। जिस दिन नवरात्रा समाप्त होती है उस दिन उस वस्त्र को मैया का प्रसाद समझ कर आदर पूर्वक उठा लें और उसे तह कर (चौपेत) कर घर के पवित्र स्थान पर रखें ।
***