Jai Mata Di!

Recent Posts

घर में फिश एक्‍वैरियम रखते वक्‍त ये गलतियां की तो हो सकते हैं कंगाल भी

घर में फिश एक्‍वैरियम रखते वक्‍त ये गलतियां की तो हो सकते हैं कंगाल भीघर में फिश एक्‍वैरियम रखते वक्‍त ये गलतियां की तो हो सकते हैं कंगाल भी

घर में मछलियों को रखना शुभ माना जाता है, पर वास्‍तु के हिसाब से फिश एक्‍वैरियम रखते वक्‍त इन सारी बातों का ध्‍यान रखना पड़ता है वरना इसका उल्‍टा असर भी देखने को मिलता है।

एक्वैरियम में तैरती रंग-बिरंगी, छोटी-बड़ी मछलियां घर और मन दोनों को ही शांत व तरोजाता माहौल देती हैं। मगर कहीं इनके होने से आपके घर की सुख-समृद्धि पर नकारात्मक असर तो नहीं पड़ रहा है? क्योंकि फिश एक्वैरियम को वास्तु शास्त्र से भी जोडकर देखा जाता है और कहा जाता है कि इससे जुड़े नियमों की अनदेखी करने पर यह आपको कंगाल भी बना सकता है। तो चलिए आपको बताते हैं कि वास्तु के अनुसार घर में कैसे रखने चाहिए फिश एक्वैरियम-
  1. - सबसे पहले तो आप यह जान लें कि फिश एक्वैरियम को रसोई या बेडरूम में रखने की बिल्कुल भी गलती ना करें। वहीं घर के मध्य में भी फिश एक्वैरियम को ना रखें।
  2. - अपने करियर और घर की खुशहाली के लिए आप फिश एक्वैरियम को घर के उत्तर या पूर्व दिशा में रख सकते हैं। वहीं प्राकृतिक रोशनी में इसे रखने से मानसिक तनाव कम होता है।
  3. - कहते हैं फिश एक्वैरियम के अंदर बहते पानी की आवाज से घर में सकारात्मक उर्जा का प्रवाह होता है।
  4. - एक्वैरियम में रखी जाने वाली मछलियों की संख्या नौ होनी चाहिए।
  5. - चीनी वास्तु के अनुसार मछलियों में एक काली मछली का होना शुभ माना गया है। एक गोल्ड मछली का होना भी अच्छा होता है। लाल और एक काली मछली को अच्छी किस्मत और खुशहाली से जोड़कर देखा जाता है।
  6. - मछलियों को बार-बार एक से दूसरी जगह पर नहीं रखना चाहिए और उन्हे सिर्फ एक ही व्यक्ति के द्वारा भोजन देना चाहिए।
  7. - मछलियों का घर में होना शुभ माना जाता है। ये घर को बुरी नजर से दूर रखती हैं।
  8. - मछलियों को दाना देने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।
  9. - ऐसा भी माना जाता है कि अगर आपके द्वारा पाली गईं मछलियां प्राकृतिक मृत्यु मरती हैं तो आपके घर या ऑफिस की भी समस्याएं खत्म हो जाती हैं।
  10. - अगर घर या ऑफिस में वास्तु दोष हो तो फिश एक्वेरियम से दूर कर सकते हैं। इससे समस्याएं भी सुलझेंगी और पैसा भी खूब आएगा।
इन बातों पर भी फरमाएं गौर
  1. - मछली के टैंक या जार को बिल्कुल साफ रखना चाहिए, बाकी पेट्स की तरह मछलियों को भी कई किस्म की बीमारियां होने का खतरा रहता है।
  2. - फिल्टर्स, एरिएशन आदि बिल्कुल सही तरीके से चलने चाहिए, ताकि मछलियों को स्वच्छ वातावरण मिले।
  3. - पानी को बदलने की सुविधा भी होनी चाहिए। पानी को प्रदूषणमुक्त करने के लिए उसमें एंटी क्लोरीन सफेद गोलियां डाल सकते हैं।
  4. - मछलियों के खाने की भी पूरी व्यवस्था रखें। फिश फूड आपको बाजार में आसानी से मिल जाता है।
  5. - अगर कोई मछली मर जाती है तो उसे जल्दी वहां से हटाकर नई मछली को फिश टैंक में डालें।
  6. - अगर आप अपने फिश एक्वेरियम को अच्छा और रंगीन रखना चाहते है तो उसमें कुछ प्रकार के आर्टिफिशियल प्लांट भी लगा सकते हैं।
***