ऐसे होता है किसी व्यक्ति पर तंत्र शक्ति (या काले जादू) का प्रयोग

तंत्र-मंत्र तथा काले जादू की प्रक्रिया देखने में जितनी जटिल होती है, करने में उतनी ही सरल होती है। अक्सर लोग जिस पर भी तांत्रिक शक्तियों या कालू जादू का इस्तेमाल करना चाहते हैं, उसे फंसाने के लिए खाने की वस्तुओं का प्रयोग करते हैं। ये खाने की वस्तुएं आम तौर पर मीठी ही होती है। आइए जानते हैं कि किस तरह से तंत्र-मंत्र अथवा काले जादू का प्रयोग कर दूसरों को वशीकरण किया जा सकता है, या उनका कुछ अनिष्ट किया जा सकता है।

कभी न खाएं दूसरे की दी गए सफेद मिठाई

काले जादू का प्रयोग मावे की मिठाई (यदि रंग सफेद हो तो सबसे अच्छा) पर सबसे ज्यादा कारगर होता है। बस शर्त इतनी सी है कि आप इसे सही ढंग से करें। ऎसे लोग जिससे भी अपना काम निकलवाना चाहते हैं उसके निमित्त खाने की मिठाई लाते हैं। उस पर अपने मंत्रों का प्रयोग कर सामने वाले व्यक्ति को खिला देते हैं। इस चीज को भगवान का प्रसाद या जन्मदिन की मिठाई या ऎसा कुछ भी बहाना बनाकर खिलाया जाता है। कुछ लोग दूध के जरिए भी इस प्रयोग को करते हैं।

इस तरह के तांत्रिक प्रयोगों से बचने का सबसे अच्छी तरीका यही है कि आप कि सी अन्य की दी गई मिठाई को कभी भूलकर भी न खाएं। यदि सामने वाला व्यक्ति ऎसा है जिसे आप मना नहीं कर सकते तो बेहतर होगा कि मिठाई का का एक छोटा-सा पीस तोड़ कर पहले उसी व्यक्ति को खिला दें। यदि वह सहज ही इसे खा लेता है तो इसका अर्थ है कि वह तांत्रिक प्रयोग नहीं कर रहा है। परन्तु यदि सामने वाला व्यक्ति आप द्वारा दी गई मिठाई को खाने में हिचकिचाएं या ना नुकूर करें तो समझ जाएं कि दाल में कुछ काला है।

इन चीजों के द्वारा भी होता है काले जादू का प्रयोग

खाने की मिठाई के अतिरिक्त लोग अन्य चीजों के माध्यम से भी काला जादू करते हैं। इन चीजों में फूल (चमेली, गुलाब, मोगरा आदि), इत्र, पान, इलायची, लौंग, उड़द, लौबान (धूप) आदि के जरिए किया जाता है। कुछ लोग पहनने के कपड़ों पर भी इसका प्रयोग करते हैं। अगर कोई व्यक्ति अचानक ही ऎसी कोई भी चीज आपको दें तो आपको उससे बचना चाहिए। ये सभी चीजें ऎसी हैं तो प्रचंड वशीकरण और मारक प्रयोग करने में काम ली जाती है।

बिना कोई चीज खिलाए या दिए भी होता है काले जादू का प्रयोग

कुछ लोग तांत्रिक प्रयोग करने के लिए एक बिल्कुल ही अलग तरीके का इस्तेमाल करते हैं। इस तरीके में सामने वाले व्यक्ति को कुछ खिलाया या दिया नहीं जाता वरन उसके घर में अथवा उसके कमरे में अभिमांत्रित वस्तु को डाल दिया जाता है। यह वस्तु कुछ भी हो सकती है, यहां तक की श्मशान की मिट्टी या कोयला भी। अगर किसी भी दिन आपको अपने घर में ऎसी कोई भी चीज मिले जो आप या आपके परिवार में किसी ने नहीं रखी हो तो भी यह तंत्र प्रयोग होने का संकेत हो सकता है।
***