---

अपनाएं ये उपाय, नहीं चढ़ेगा होली का रंग

होली के दिन रंग तो अच्छे लगते हैं लेकिन होली खत्म होने के बाद यही रंग त्वचा या बालों पर रह जाएं तो बड़ा अजीब लगता है। ऐसे में हम आपको देते हैं रंग छुड़ाने के मास्टर टिप्स। होली के रंगों में केमिकल्स होते हैं और रंगों से त्वचा और बाल खराब हो सकते हैं। आप चाहें लाख कोशिशें कर लें होली के दिन आपके बालों और त्वचा को बहुत कुछ झेलना पड़ता है। आप भले ही ऑरगैनिक रंगो से होली मनाए, लेकिन कोई दूसरा कैसे रंगों का इस्तेमाल कर रहा है ये आपको नहीं पता। और इसकी वजह से आपकी त्वचा और बाल लंबे समय तक खराब हो सकते है। इससे बचने के लिए घरेलू नुस्खे इस्तेमाल किए जाते हैं।

होली खेलने से पहले गाढ़े रंग की नेल पॉलिश लगाएं जिससे नेल पॉलिश से त्वचा सुरक्षित रहेगी। होली खेलने से पहले चेहरे और हाथों पर सन्सक्रीन लगाएं और सन्सक्रीन से खतरनाक केमिकल्स से बचाव होगा।

इन नुस्खों के अलावा आप नाखूनों पर गाढ़े रंग का नेल पॉलिश लगा सकते हैं जिससे रंग अंदर नहीं जाए। स्नस्क्रीम लगाने से भी त्वचा कुछ हद तक बची रहेगी। इस सबसे आप काफी हद तक अपने आप को केमिकल्स से बचा सकते हैं। लेकिन रंग निकालते वक्त भी एहतियात बरतनी ज़रूरी है। साबुन की जगह सिंथेटिक डिटर्जेंट का इस्तेमाल करें। इसका पीएच लेवल साबुन से कम होता है। रंग निकालने के लिए मस्लिन क्लोथ का प्रयोग भी किया जा सकता है। फिर भी ऐसा हो सकता है कि आपको चहरे और स्किन में जलन हो। इसके लिए आप खीरा इस्तेमाल कर सकते हैं।

चेहरे के लिए खीरे का उपयोग करें। आलू के टुकड़े को काट कर इसे फ्रिज में रक दें और प्रयोग करें। आप जलन को कम करने के लिए खीरा और टी बैग्स भी उपयोग कर सकते हैं। इस साल आप बिना किसी चिंता के होली खेल सकते है बशर्ते आप बताई गई बताई को ध्यान में रखे और इनहें आज़माएं।

एक और काम का नुस्खा, रंग उतारने के लिए आप दूध का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। ये एक अच्छा मॉश्चराइजर तो है ही साथ में बहुत आसानी से गाढ़े से गाढ़ा रंग निकाल देता है और आपकी त्वचा को सॉफ्ट भी रखता है।
***