रात को कान में प्याज रखने से होता है ये चमत्कारिक फायदा!

प्याज खाने में स्वाद बढ़ाने के साथ ही हमें कई बीमारियों से निजात भी दिलाता है। अगर हम प्याज को एक औषधी कहें तो कुछ गलत नहीं होगा। प्याज के फायदे बहुत होते हैं और यह बहुत ही शानदार घरेलू नुस्खा है। प्याज खाने को स्वादिष्ट बनाने का काम तो करता ही है साथ ही यह एक बेहतरीन औषधि भी है। कई बीमारियों में यह रामबाण दवा के रूप में काम करता है।

प्याज में केलिसिन और रायबोफ्लेविन (विटामिन बी) पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। इतना ही नहीं प्‍याज में जीवाणुरोधी, तनावरोधी, दर्द निवारक, पथरी, गठिया, लू, मधुमेह और कई अन्य बीमारियों को कंट्रोल में करने की शक्ति भी होती है। आज हम इस लेख में आपको बताएंगे कि प्याज हमारे कानों के लिए किस तरह से फायदेमंद है।

आपने आज से पहले मोजो में प्याज रखकर सोने के फायदे के बारे में पढ़ा होगा। साइंस ने भी इस बात को मान्यता दी है कि मोजे में प्याज रखकर सोने से हमें कई तरह के स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं। दरअसल प्याज में मौजूद फॉस्फोरिक एसिड खून की धमनियों में घुस कर खून को शुद्ध बनाता है। इसके अलावा जिन लोगों को जूते-चप्पल पहनने के बाद पैरों में बदबू की शिकायत होती है उसे भी ये उपाय जड़ से खत्म करता है। लेकिन प्याज को कान में रखकर सोने से भी कई बीमारियों से बचा जा सकता है। जिन लोगों को अक्सर कान में दर्द या जलन की समस्या होती है उसके लिए भी ये अचूक उपाय है।

इस उपाय को करने के लिए एक प्याज लें और इसे साफ तरह से धो लें। अब इसे छीले और इसके अंदर का एक छोटा टुकड़ा निकाल लें। टुकड़ा इतना बड़ा होना चाहिए कि कान के अंदर ना जाए और ना ही रात को सोते वक्त बाहर गिर जाए। अब रात को सोने से पहले इस टुकड़े को कान के खुले हुए बाहरी हिस्से पर रखें। प्याज कान के अंदर नहीं जाना चाहिए, नहीं तो समस्या खड़ी हो सकती है। रातभर ऐसा करने से सुबह आपको कान के दर्द से काफी हद तक आराम मिलेगा।

इसके साथ ही ये उपाय कान में होने वाली जलन को भी दूर करता है। कुछ दिनों तक ऐसा करने से आप कान से जुड़ी लगभग सभी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं। दरअसल ऐसा इसलिए होता है क्योंकि प्याज में मौजूद फास्फोरिक एसिड कान में किसी भी तरह की जलन और दर्द को दूर करता है। इस उपाय को करते वक्त आपको रातभर प्याज की बदबू को जरूर झेलना पड़ेगा।
***