Jai Mata Di!

Recent Posts

नीम का तेल + कपूर = (All Out) तथा मोर्टीन का बाप

नीम का तेल + कपूर = (All Out) तथा मोर्टीन का बाप

आपको जानकर हैरानी होगी कि मच्छर मारने के लिए अक्सर क्वायिल के रूप में, टिकिया के रूप में या तरल रूप में जो दवा हम इस्तेमाल करते है, उसमें कुछ खतरनाक रासायन जैसे D-ethylene, Melphoquin और Phosphene होते हैं।

ये तीनों रसायन अमेरिका और यूरोप सहित कुल 56 देशों में 20 साल से प्रतिबंधित है। बच्चों के सामने तो इनका प्रयोग कभी नहीं करना चाहिए।

वैज्ञानिको का कहना है
ये मच्छर मारने वाली दवाएं अंत में मनुष्य को मार देती है। इन तीन खतरनाक रसायनों का व्यापार भारत में विदेशी कंपनियों के नियंत्रण में है एवं वो इसे अंधाधुंध आयात करके भारत में बेच रहे हैं। साथ में कुछ घरेलु कंपनिया भी इन्हें बेच रही हैं।

स्व. राजीव दीक्षित अनुसार मच्छरदानी का प्रयोग करना सर्वोत्तम उपाय है।
मच्छरदानी के आलावा राजीव दीक्षित ने खतरनाक रासायन के विकल्प तौर पर मच्छर भगाने का सबसे सस्ता, टिकाउ, आसान और देसी तरीका भी लोगों को समझाया है –

आवश्यक सामग्री
एक लैम्प (लालटेन), नीम का तेल, कपूर (Camphor), मिटटी का तेल (Kerosene Oil), नारियल का तेल (Coconut Oil)

उपयोगी तरीका
(All Out) की केमिकल वाली खाली रिफिल ढूंढे। फिर बाजार से दो चीज लानी है एक तो नीम का तेल और कपूर।

खाली रिफिल में आप नीम का तेल डालें और थोड़ा सा कपूर भी डाल दे और रिफिल को मशीन में लगा दे। इसके बाद मच्छर नहीं आयेंगे।

तो सावधान रहिए
मच्छर भगाने वाली क्वायल 100 सिगरेट के बराबर नुकसान करती है।

पैसे की भी बचत
नीम का तेल 1 लीटर 250 रूपए का व् 100 ग्राम असली कपूर केवल 100 रूपए की मिलती है, जिससे गुडनाईट की शीशी 25 बार भर सकती है। यानी केवल 14 – 15 रूपए में बिना नुक्सान वाली गुडनाईट रिफिल तैयार।

मच्छर भगाने का सबसे सस्ता, टिकाऊ, आसान और देसी तरीका है, साथ ही पैसे और स्वास्थ्य दोनों की बचत है।

【नोट : ज़्यादा मच्छर हों तो सोने जाने से पहले केवल नीम के तेल का दिया जलाएँ 】

ये तरीका भी अपनाएं
जब आप कहीं बाहर आउटिंग पर जायें, तो अपने साथ कुछ नीम्बू जरूर लेते जाएँ। ये मच्छरों को दूर भगाने का बहुत बढ़िया उपाय है। नीम्बू को बीच में से काटें, दोनों टुकड़ों में 10-15 लौंग घुसा दीजिये, और साथ में रख लीजिये। मच्छर पास आने की हिम्मत भी नहीं करेंगे।
***