मुंह में ज्यादा लार बनने के 7 कारण

आपके मुंह में आने वाली लार का खाने को डाइजेस्ट करने में अहम रोल होता है। यह लार ग्रंथियों द्वारा स्रावित होती है। कई बार आपने महसूस किया होगा कि जब आप अपनी पसंदीदा खाने की चीजों या खट्टी चीजों के बारे में सोचते हैं, तो आपके मुंह में पानी आ जाता है।

 क्या आप जानते हैं सोते समय लार क्यों बहती है? आपको बता दें कि लार के कई फायदे हैं लेकिन लार का ज्यादा बनना किसी समस्या का संकेत हो सकता है। हम आपको बता रहे हैं कि मुंह में लार का अधिक उत्पादन किन कारणों से होता है।

(1) मीठी और गर्म चीजें- क्या आप बहुत ज्यादा मीठा, स्पाइसी और गर्म चीजें खाते हैं? डॉक्टर सुहास पटवर्धन के अनुसार, स्वीट, हॉट एंड स्पाइसी फूड्स खाने से लार का उत्पादन बढ़ सकता है।

(2) कर्णमूलीय वाहिनी (parotid duct) में रुकावट: डॉक्टर के अनुसार, यह नली लार को ग्रंथि से मुंह में ले जाने का काम करती है। कभी-कभी नली लार के प्रवाह में रुकावट का कारण बन सकती है। इसके अलावा चोट या ब्लॉकेज की वजह से नली में किसी तरह की रुकावट से भी लार का उत्पादन बढ़ सकता है।

(3) लार ग्रंथियों की सूजन- डॉक्टर पटवर्धन के अनुसार, मनुष्य में तीन लार ग्रंथियां होती हैं। इनमें से किसी एक में भी सूजन होने से लार का उत्पादन बढ़ सकता है।

(3) बच्चों के दांत आने पर- डॉक्टर के अनुसार, बच्चों को छह से आठ महीने के बीच पहला दांत आना शुरू होता है जिसे दूध का दांत कहा जाता है। बच्चों के दांत आने के पीरियड में उनके मुंह से अधिक लार आ सकती है।

(4) बैड ओरल हाइजीन- डॉक्टर के अनुसार, मौखिक स्वच्छता नहीं बनाए रखने से भी लार का उत्पादन बढ़ सकता है। इसलिए मौखिक स्वच्छता बनाए रखने के लिए कुल्ला करना और रोजाना ब्रश करना बहुत जरूरी है।

(5) पिलैग्र (Pellagra)- यह एक रोग है जो सिस्टम में नियासिन का लेवल कम होने की वजह से होता है। अधिक लार बनना इसका एक लक्षण है। नियासिन का लेवल जांच करके इसका लेवल बढ़ाने वाली चीजों का ज्यादा सेवन करना चाहिए।

(6) रेबीज- डॉक्टर के अनुसार, रेबीज की वजह से भी लार का अधिक उत्पादन हो सकता है। इससे पीड़ित व्यक्ति को गले में दर्द और गले की मांसपेशियों में दर्द की वजह से लार का अधिक उत्पादन होता है।
***