जानिए सेहत से जुड़े शहद के 6 फायदे - 6 Magical Health Benefits of Honey

आजकल शकर के बारे में इतना कुछ कहा सुना जा रहा है कि लोग अक्सर ऐसा समझने लगते हैं कि कुछ भी मीठा खाना सेहत के लिए नुकसानदायक है। जबकि प्रकृति ने हमें ऐसे कई उपहार दे कर रखे हैं जिनमें प्राकृतिक रूप से शकर मौजूद रहती है। जैसे कि फल और शहद। आइए शहद के छः फायदों के बारे में जानते हैं।

1. एक बेहतरीन रोग प्रतिरोधक
शहद की कई खूबियों में से एक यह है कि इसमें विटामिन, खनिज और ऐसे कई एन्जाइम्स होते हैं जो हमारे शरीर को घातक बैक्टीरिया से लड़ने में मदद करते  हैं और हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। यदि आप शहद का नियमित रूप से इस्तेमाल करते हैं तो यह आपको सर्दी जुखाम से जुड़े लक्षणों जैसे खांसी, गले की खराश और नाक बंद में भी राहत पहुंचाता है। यदि आप अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना चाहते हैं तो प्रतिदिन 1 से 2 चम्मच शहद गर्म पानी में मिलाकर पियें। साथ ही और अच्छे परिणामों के लिए आप इसमें कुछ बूँद नीम्बू का रस और थोड़ी सी दालचीनी भी मिला सकते हैं।

2. मोटापा करे कम
सुबह खाली पेट नीम्बू और शहद के साथ गरम पानी पीने से शरीर डिटॉक्सिफाय होता है। ऐसा रोज़ करने से लीवर साफ़ होता है एवं उससे सारे टॉक्सिन (ज़हरीले तत्व)  बाहर निकल जाते है। साथ ही शरीर से वसा या फैट भी निकल जाता है। ना सिर्फ आप ऐसा सुबह कर सकते हैं बल्कि रात को सोते समय भी नीम्बू शहद का पानी पीना उतना ही सेहतमंद है।

3. हृदय रोगों से बचाव
दालचीनी के साथ शहद का प्रयोग हृदय की रक्तवाहिकाओं और नसों को पुनर्जीवित करता है। यह उनकी सेहत के लिए विशेष रूप से फायदेमंद है। इस प्रयोग से कॉलेस्ट्रोल में भी 10% तक की कमी देखी गई है। नियमित रूप से ऐसा प्रयोग करने से हार्ट अटैक की सम्भावना काफी कम हो जाती है। इन फायदों के लिए गर्म पानी में 1 से 2 चम्मच शहद के साथ 1/3 चम्मच दालचीनी के साथ दिन में एक बार प्रयोग करें।

4. अपच से दे राहत
बदहज़मी से पीड़ित लोगों के लिए भी शहद बहुत कारगर है। शहद का एंटीसैप्टिक गुण आमाशय में एसिड की मात्रा पर लगाता है। शहद गैस को भी निष्प्रभावित करता है जो कि उन लोगों के लिए बहुत फायदेमंद है जिन्हें कभी कभी अधिक खाने की वजह से गैस की शिकायत रहती है। किसी शादी या पार्टी में जाने से पहले जब अधिक खाने की सम्भावना हो तो अपच से बचने के लिए पहले ही 1 या 2 चम्मच शहद का इस्तेमाल कर लें पर यदि आपने अधिक खा ही लिया हो तो उसके बाद गर्म पानी में थोड़ा शहद और नीम्बू का रस बदहज़मी में भी फायदा पहुंचाता है।

5. थकान रखे दूर
शहद में पायी जाने वाली प्राकृतिक शर्करा में कैलोरीज़ और ऊर्जा होती है। अधिक थकान होने पर कुछ मीठा खाने के लिए होने वाली चाहत भी शहद खा लेने से पूरी हो जाती है।  इसे खाना संतुष्टि का एहसास करता है। थकान होने पर कॉफी या चॉकलेट खाने की बजाय शहद हमेशा ही एक बेहतर विकल्प है।

6. त्वचा का भी रखे ख्याल
शहद का एंटीफंगल और एंटी माइक्रोबियल (फफूंद और सूक्ष्मजीव) गुण इसे एक उत्कृष्ट स्किन केयर प्रोडक्ट बनाता  है। किसी भी दाग या धब्बे पर सीधे शहद का लेप करें और रात भर उसे लगा रहने दें। सुबह उठते ही इसे धो लें। ऐसा रोज़ करने पर आपको त्वचा की बेहतर सेहत नज़र साफ़ आने लगेगी। चेहरे पर शहद का मास्क लगाने से त्वचा में निखार आता है। सोरायसिस में हालाँकि यह इतना कारगर नहीं है पर इसके प्रयोग से बड़ी राहत मिलती है।

आपके पास भी शहद से जुड़ी कुछ जानकारी है तो नीचे कमेंट करें।
***