---

अधिक मात्रा में अदरक की चाय पीने के साइड इफेक्‍ट : Harmful Side Effects of Excessive Ginger Tea

यूं तो अदरक की चाय पीने से सेहत को कई तरह से फायदे होते हैं, लेकिन कहते हैं न अति हर चीज की बुरी होती है। जीं हां अदरक की चाय को अधिक मात्रा में पीने से कुछ लोगों को सीने में जलन, पेट खराब होना जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

अदरक की चाय के साइड इफेक्‍ट
अदरक में मौजूद तत्‍व मतली, पेट और आंतों की समस्‍या और सूजन को कम करने में मदद करते हैं। प्राचीन आयुर्वेद और चीनी दवाओं में भी करीब 3 हजार सालों से अदरक का इस्‍तेमाल औषधि के रूप में किया जा रहा है। और अदरक की चाय अपच, सूजन, जलन, माइग्रेन, डायरिया और कई अन्‍य प्रकार की समस्‍याओं का कुदरती तौर पर इलाज करने के लिए इस्‍तेमाल किया जाता है। अदरक की चाय पीने से सेहत को कई तरह से फायदा होता है, लेकिन कहते हैं न अति हर चीज की बुरी होती है। जीं हां अदरक की चाय को अधिक मात्रा में पीने से कुछ लोगों को सीने में जलन, पेट खराब होना जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। आइए जानें सेहत के लिए फायदेमंद अदरक की चाय आपकी दुश्‍मन कैसे हो सकती है।


पेट में खराबी
हालांकि अदरक की चाय पेट की समस्‍याओं को दूर करती है, लेकिन अदरक की चाय की उचित मात्रा हर व्‍यक्ति के हिसाब से अलग-अलग होती है। तो ऐसे में यह कहना जरा मुश्किल है कि इस समस्‍या से बचने के लिए अदरक की चाय की कितनी मात्रा उपयोगी साबित होगी। खाली पेट अदरक की चाय का सेवन करने से आपका पेट खराब हो सकता है। यूनिवर्सिटी ऑफ मैरीलैंड मेडिकल सेंटर के अनुसार, ऐसा करने से गस्ट्रोइंटेस्टिनल खराब हो जाता है।

गर्भपात का खतरा
गर्भावस्‍था में अदरक की चाय का सेवन करना चाहिये अथवा नहीं यह एक विवादास्‍पद मुद्दा है। कुछ लोगों का मानना है कि मॉर्निंग सिकनेस के लिए अदरक की चाय बहुत मददगार होती है। लेकिन कई जानकार गर्भस्‍थ शिशु पर बुरा असर होने के कारण गर्भवती को अदरक का सेवन न करने की सलाह देते है। गर्भावस्‍था के दौरान अदरक का सेवन मां और शिशु दोनों के लिए खतरनाक क्‍योंकि इससे गर्भपात भी हो सकता है। इसलिए बेहतर है कि गर्भावस्‍था में अदरक की चाय का सेवन करने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह ले लें।

ब्‍लीडिंग का खतरा
ब्‍लड पतला करने वाली किसी भी दवा के साथ अदरक की चाय के सेवन से बचना चाहिए। यानी जो लोग हाई ब्‍लड प्रेशर की दवा का सेवन कर रहे हैं, उन्‍हें किसी भी रूप में अदरक का सेवन नहीं करना चाहिये क्‍योंकि यह ब्‍लड प्रेशर को कम करता है, जिससे हार्ट पल्‍पीटेशन की शिकायत हो सकती है। इसके अलावा अदरक के सेवन से लोगों में हीमोफिलिया जैसे रक्‍त विकार हो सकते हैं। इसलिए दवाओं के साथ अदरक की चाय पीने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह जरूर लें।

जलन, डायरिया और मतली की समस्‍या
अदरक की चाय का अधिक सेवन आपकी पाचन क्रिया को बिगाड़ सकता है। इसके कारण मुंह में जलन, डायरिया, मतली और यहां तक कि सीने में जलन की समस्‍या भी हो सकती है। इसके साथ ही इसके अधिक सेवन से शरीर में एसिड का निर्माण होने से एसिडिटी होती है। इसके अलावा डायबिटीज से ग्रस्‍त लोगों को किसी भी रूप में अदरक का अधिक सेवन नहीं करना चाहिये। क्‍योंकि अदरक शरीर में शुगर की मात्रा को कम कर देता है, जिससे हायपोग्‍लासेमिया हो सकता है।

भूख करती है कम
2012 में मेटाबाल्जिम : क्‍लीनिकल एंड एक्सपेरिमेंटल में प्रकाशित एक पायलट अध्‍ययन के अनुसार अदरक का सेवन आपकी भूख को कम करता है। अध्‍ययन में शोधकर्ताओं को संदेह है कि अदरक में सेरोटोनिन हार्मोंन की सांद्रता, भूख को दबाने में एक महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता हैं। इसलिए अगर आप अपना वजन बढ़ाने चाहते हैं तो अदरक की चाय पीने से बचें क्‍योंकि यह आपकी भूख को कम कर सकती हैं।
***