---

पीरियड्स का दर्द दूर करने में दवाओं से अधिक असरदार है अदरक

मासिक-धर्म के दौरान महिलाओं को कई सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है जिनमें से कमर के नीचे वाले भाग में दर्द होना एक आम समस्या है। इस समस्या से निपटने के लिए कई महिलाएं दवाईयों का इस्तेमाल करती हैं तो कई घरेलू नुस्खे अपनाती हैं। घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल करना तो सही है लेकिन दवाईयों का इस्तेमाल करना सही नहीं है। इससे कई बार साइड इफेक्ट्स भी हो जाते हैं जिससे और अधिक समस्या उत्पन्न हो जाती है।

दवाईयो का प्रभाव
पीरियड्स के दौरान दवाईयों का इस्तेमाल विपरीत परिणाम देते हैं। कई बार दवाईयां महिलाओं के स्वास्थ्य और प्रजनन अंगों पर बुरा प्रभाव डालते हैं। इस समस्या से निपट ने के लिए प्रकृतिक उपायों का जितना ज्यादा आप इस्तेमाल करें उतना ज्यादा अच्छा है। लेकिन इन प्राकृतिक उपायों के इस्तेमाल के बारे में भी सारी जानकारी होनी चाहिए। इनका सबसे ज्यादा फायदा है कि आप प्रकृतिक दवाईयां घऱ में ही बना सकते हैं। जैसे अदरक का इस्तेमाल पीरियड्स के दर्द का बेहतर इलाज है।

अदरक का उपयोग
अदरक का उपयोग करके दर्द दूर करें 29 ग्राम अदरक को एक गिलास पानी में उबालें। जब पानी आधा रह जाए तो इसे छान लें। इस छने हुए पानी को दिन में दो बार पीयें, आप पीरियड्स शुरू होने के 15 दिन पहले इसे प्रारंभ कर सकते हैं। इसे दो महीने तक अपनाएं, आपको निश्चित रूप से आराम मिलेगा। पीरियड्स के दौरान चाय में सामान्य से कुछ अधिक मात्रा में अदरक का इस्तेमाल करें तथा इसे रोगी को दें। यह पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द से आराम दिलाने में सहायक होगा।

अदरक-सोंठ सूप
मासिक-धर्म के दौरान दर्द की समस्या को दूर करने के लिए अदरक-सोंठ सूप तुरंत कारगर है। अदरक के टुकड़े, सोंठ और गुड़ को गर्म कर सूप बनाएं। जब ये हल्का ठंडा हो जाए तो पिएं। दर्द दूर हो जाएगा।
***