Jai Mata Di!

Recent Posts

खटमल के काटने से कैसे छुटकारा पाएँ, खटमल काटने के निशान हटाने के उपाय

घरों में पाये जानें वाले खटमल एक गंभीर समस्या हैं जो खास तौर पर कपबोर्ड, कार्पेट आदि में छिपे रहते हैं लेकिन खास तौर पर इनके छिपने की जगह बिस्तर होता है, यह सूक्ष्म परजीवी हैं जो मानव शरीर के रक्त पर जीवित रहते हैं। यह रात में निकलने वाले परजीवी हैं जो कुछ ही समय में बड़ी ही आसानी से रक्त चूस सकते हैं। खटमल के काटे का निशान मच्छर के काटने की ही तरह होता है और यह भी जलन व खुजली पैदा करने वाला होता है। खटमल की लार में थक्कारोधी और उस स्थान को निश्चेत कर देने की क्षमता होती है इसीलिए इसके काटते वक़्त कोई दर्द महसूस नहीं होता पर बाद में यह एक निशान के रूप में उभर कर शरीर के अंगों में दिखाई देता है।

अगर आपके घर में भी खटमल की समस्या है और आपके शरीर में इसके काटने के निशान हैं तो इन लाल निशान को नाखून से न खुजलाएँ और इनके प्राकृतिक उपचारों की तरफ ध्यान दें। खटमल के काटने से होने वाली खुजली को प्राकृतिक उपायों की मदद से ठीक किया जा सकता है, अगर आपकी समस्या कुछ ज़्यादा ही गंभीर हो गई हो तो पहले त्वचा रोग विशेषज्ञ से जाकर मिलें उसके साथ इन घरेलू उपायों को अपनाएँ। ऐसा करने से खटमल के काटने से हुये निशान और खुजली में कमी आती है।

अगर आपको महसूस हो की आपको सोने के दौरान खटमल ने काटा है तो सुबह जल्दी से जल्दी उठकर उस स्थान को पानी और एंटीसेप्टिक साबुन की सहायता से अच्छी तरह धोकर साफ करें और उस प्रभावित स्थान पर बर्फ लगाएँ। खटमल के कटे से होने वाली खुजली को कम करने के लिए इन प्राकृतिक व घरेलू उपायों की मदद लें।

बेकिंग सोडा और पानी से करें खुजली का इलाज (Baking soda and water treatment se khatmal ka ilaj in hindi)
यह खटमल के काटने की वजह से होने वाली खुजली को दूर करने का एक बहुत ही प्रभावी घरेलू इलाज है। बेकिंग सोडा व पानी को मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट बना लें। इसे प्रभावित हिस्से में लगाकर सूखने दें। इस पेस्ट को आप खुजली वाली जगह पर एक घंटे तक के लिए लगाए रख सकते हैं। इसके सूख जाने के बाद साफ ठंडे पानी से धोकर त्वचा को पोंछ लें।

विच हेज़ल या चुड़ैल अखरोट से त्वचा का इलाज (Witch hazel herb treatment for khatmal katne ke nishan)
विच हेज़ल एक औषधिय पौधा है जिसमें एस्ट्रिन्जेंट के गुण पाये जाते हैं यह त्वचा विकारों को दूर करने में मदद करता है। इससे बने लोशन या मलहम दावा की दुकानों में आसानी से उपलब्ध रहते हैं। इसके लिए आप इस मलहम का उपयोग प्रभावित हिस्से में करें, इसे त्वचा में लगाने से त्वचा की जलन, खुजली आदि में राहत मिलती है।

नींबू का रस से खटमल से बचाव (Lemon juice home remedy)
नींबू एंटीबैक्टीरियल और जलनरोधी होने के साथ साथ त्वचा की समस्याओं पर काबू पाने में सहायक माना गया है। खटमल के काटे हुये स्थान पर नींबू के रस को लगाकर कुछ देर के लिए ऐसे ही रहने दें, इसके बाद पानी से त्वचा को धो लें। इस प्रक्रिया को आप दिन में 3 से 4 बार कर सकते हैं, इससे त्वचा की जलन और खुजली आदि कम होती है।

खुनी कीड़े से कैसे बचे शहद से (Honey se khatmal se chutkara) बहुत से लोगों का मानना है की किसी कीड़े आदि के काटने पर या निशान पर शहद लगाना बहुत लाभदायक होता है। शहद एक एंटीबैक्टीरियल होने के साथ ही साथ त्वचा पर होने वाले किसी बाहरी प्रभाव जैसे जलन आदि को दूर करने में मदद करता है। अगर आपको खटमल ने काट लिया है और आपकी त्वचा पर लाल निशान दिखाई दे रहे हों तो उसे खुजाना नहीं चाहिए और उस प्रभावित हिस्से में शहद का लेप लगाना चाहिए, इससे आपको जल्दी ही आराम मिलेगा।

टी ट्री ऑइल (Tea tree oil solution se khatmal khatam karne ka totka)
टी ट्री ऑइल त्वचा संबंधी कई समस्याओं में मददगार होता है। त्वचा पर किसी तरह के संक्रमण में भी यह आपकी मदद कर सकता है। अगर आपके शरीर में लाल निशान और खुजली हो रही है जो खटमल आदि के काटने के कारण है तो उस जगह पर टी ट्री ऑइल का प्रयोग आरामदायक होता है पर इसे सीधे ही त्वचा पर नहीं लगाना चाहिए, टी ट्री ऑइल का प्रयोग करने के लिए उसे नारियल के तेल या अन्य किसी भी तेल के साथ मिलाकर त्वचा में लगाएँ।

पिस्सू को मारने के लिए एलोवेरा जेल (Aloe gel treatment for bug bite)
एलोवेरा जेल त्वचा को कई तरह से लाभ पहुंचाने वाले उत्पादों में से एक है। इसे त्वचा पर ठंडक प्रदान करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। अगर खटमल आदि परजीवी के काटने से आपकी त्वचा में खुजली या जलन के साथ लाल चकत्ते दिखाई दे रहे हों तो उस स्थान पर एलोवेरा का जेल लगा लें और इसे आधे घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें। यह भी संक्रमणरोधी है और आपकी त्वचा से लाल निशान को जल्दी ही कम करने में सहायक भी होता है।

घरेलू अमोनिया (Household ammonia for insects bite)
खटमल के काटे हुये एसथान पर अमोनिया का प्रयोग उपचार की तरह काम करता है। घर में उपलब्ध अमोनिया को कॉटन में लेकर प्रभावित हिस्से में  2 से 3 मिनट तक रखें और उसके बाद इसे साफ कर लें हो सकता है कि इससे आपके त्वचा की खुजली तुरंत दूर न हो लेकिन 10 से 15 मिनट में आपकी यह समस्या ज़रूर खत्म हो जाएगी।

तुलसी (Basil oil treatment for khatmal bite in Hindi)
तुलसी गुणों का खज़ाना है और इसका हर हिस्सा हमारे लिए बहुत गुणकारी और जादुई असर दिखाने वाला माना जाता है, इसमें कई तरह के रोगों को दूर करने की क्षमता होती है। अगर आपके पास तुलसी का तेल है तो इसे रुई में लेकर खुजली वाले हिस्से में लगाएँ और कुछ देर तक रहने दें, यह आपके त्वचा से खुजली, जलन या अन्य समस्याओं को भी खत्म कर देगा।

पेट्रोलियम जेली के साथ प्याज़ का रस (Onion with petroleum jelly se bug bite ka gharelu ilaj Hindi me)
प्याज़ हमारी त्वचा के रोगों के लिए एक वरदान है इसमें त्वचा संबंधी कई रोगों से लड़ने की क्षमता होती है। साथ ही यह त्वचा से दाग धब्बों को भी दूर करने में मदद करता है। एक प्याज़ लेकर इसे पीस लें और इसका रस छानकर अलग कर लें। इसे पेट्रोलियम जेली के साथ मिलाकर त्वचा में लगाएँ, यह आपकी त्वचा से लाल धब्बों को हटाकर साफ करने में मदद करेगा।

टुथपेस्ट (Bed Bugs solution in hindi with toothpaste treatment)
खटमल के काटने पर टूथपेस्ट का प्रयोग बहुत आसान और प्रभावी है। अगर आपकी समस्या बहुत अधिक गंभीर नहीं है तो आप इसे त्वचा के प्रभावित हिस्से में लेप की तरह लगाकर लाल धब्बों आदि से छुटकारा पा सकते हैं।

लाल धब्बों को हटाने के लिए आलू के रस का घरेलू उपाय (Potato)
आलू का रस ठंडक प्रदान करने के साथ जलन को भी कम करता है। इसके रस में ऐसे गुण पाये जाते हैं जो त्वचा के गहरे रंग को हल्का करने में भी मदद करते हैं। अगर आपके शरीर में खटमल के काटने से गहरे दाग हो रहे हैं तो इस पर आलू के रस का प्रयोग करें, यह आपके शरीर से दाग को जल्द कम्म करने में सहायता करता है और त्वचा से जलन को भी कम करता है।

त्वचा से दाग धब्बों को दूर करने के लिए चंदन के प्राकृतिक उपाय (Bug bite swollen red hot itchy bug bite treatment with sandalwood)
चंदन त्वचा से जलन को कम करने के साथ साथ शीतलता प्रदान करने वाला माना जाता है। इसे त्वचा पर लगाने से किसी भी प्रकार की जलन में आराम मिलता है। अगर खटमल के काटने से आपकी त्वचा में जलन के साथ खुजली हो रही है तो चंदन का पतला लेप त्वचा के उस हिस्से पर लगाकर सूखने के लिए छोड़ दें, इस प्रक्रिया को दिन से 3 से 4 बार दोहराने पर समस्या जल्दी ही दूर हो जाती है।

पुदीने के घरेलू उपाय (Bug bite swelling or khatmal ke katne ka gharelu upchar)
पुदीना एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होने के साथ साथ त्वचा को ठंडा रखता है और दाग आदि निशानों को भी कम करता है। अगर खटमल के काटने से आपकी त्वचा में जलन के साथ खुजली हो रही है और साथ ही आपकी त्वचा पर चकत्ते भी पड़ रहे हैं तो इस जगह पर पुदीने के पत्तों का लेप लगाएँ, इस लेप को सूखने दें और इसे बिना रगड़े धोकर साफ कर लें।
***